‘अल्फा टू ओमेगा’ न्युजलेटर – जनवरी २०१९

 

Shree Aniruddha Upasana Foundation
 

‘अल्फा टू ओमेगा’ न्युजलेटर – हिन्दी संस्करण

 

जनवरी २०१९

संपादक की कलम से

 

हरि ॐ श्रद्धावान सिंह / वीरा,

 

सभी श्रद्धावान नवम्बर और दिसम्बर महीने का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे क्योंकि यह महीने अपने साथ श्री अनिरुद्ध पूर्णिमा और सच्चिदानन्द उत्सव लेकर आए जोकि सभी श्रद्धावानों के लिए हर्षोल्लास के शिखर हैं।

श्री ‘सच्चिदानन्द उत्सव’ श्रद्धावानों के लिए “भक्तिभाव” का प्रतीक है जो “चैतन्य” लाता है क्योंकि, हम सद्गुरु श्री अनिरुद्धजी की पादुकाएं अपने घर लाते हैं और उनका प्रेमपूर्ण सम्मान करते हैं। हम सद्गुरु से प्रार्थना करते हैं कि बापू, हमें सही मार्ग पर ही रखना और जो कुछ हमारे लिए हानिकारक हो उसे हमसे दूर ही रखना।

हाल में, जब से हमें सद्गुरु श्री अनिरुद्धजी ने “त्रिविक्रम भक्तिभाव चैतन्य” (Trivikram Devotion Sentience) समझाया है तब से हमारे जीवन में आनंद, उत्साह और फुरती की नई उमंग जागी है।

सद्गुरु श्री अनिरुद्ध बापूजी ने “दैनिक प्रत्यक्ष” में अपने अग्रलेखों द्वारा और उनके गुरुवार के प्रवचनों (पितृवचनों) द्वारा हमारे मन में इस आनंद के बीज बोए। भक्तिभाव चैतन्य का तुलसीपत्र संख्या १५७७ हमारा मार्गदर्शक है। यह स्वयंभगवान त्रिविक्रम की कृपा को भी उजागर करते हैं।

“भक्तिभाव चैतन्य” और कुछ नहीं, यह स्वयंभगवान के प्रति प्रेम और अपनापन है। यह एक भाव है कि, ‘वे’ मेरे साथ हैं और मैं ‘उन’के साथ हूं। इस दिव्य कृपा और परमानंद का अनुभव करने के लिए त्रिविक्रम मंत्र-गजर सबसे आसान जरिया है। इसके अलावा,

भक्तिभाव चैतन्य में रहने के लिए मंत्र-गजर का जाप करते समय अपना ध्यान पूरी तरह से ‘उस’ पर केंद्रित करने की जरुरत नहीं है। हमें अपने काम, क्रोध, लोभ, मोह, माया, ईर्षा इन छे रिपुओं के प्रति चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है; मंत्र-गजर जोकि श्री त्रिविक्रम का सार्वभौम मंत्र है यही हमारे लिए सबकुछ करता है।

 

इसके अतिरिक्त, इस भक्तिभाव को हमारे हृदय में वृद्धिंगत करने, शिक्षण देने और विकसित करने के लिए हमें उपहार स्वरूप हाल में ‘Music on Demand’ app – ‘Aniruddha Bhajan Music’ and ‘Video on Demand’ app – ‘Aniruddha TV’, का लोकार्पण किया गया है। अनिरुद्ध भजन म्यूजिक ऐप के जरिए हम ‘पिपासा’ के 3 ऐलबम्स के अलावा त्रिविक्रम मंत्र-गजर सुनकर आनंद उठा सकते हैं।

– समीरसिंह दत्तोपाध्ये

विषय-सूची

  • संपादक की कलम से
  • म्यूजिक ऑन डिमान्ड (MoD) और विडिओ ऑन डिमान्ड (VoD) ऐप
  • अनिरुद्ध आपदा प्रबंधन अकादमी

 

यह न्यूजलेटर अंग्रेजी या मराठी में पढनेके लिए निम्नलिखित लिंकपर क्लिक करे।

English

इस न्यूजलेटर के बारे में आपकी प्रतिक्रियाएँ एवं सूचनाएँ निम्नलिखित ई-मेल आयडी पर भेज सकते हैं :

[email protected]


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण

वर्ष ४ | अंक १ | जनवरी २०१९ | १

 

 


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण


म्यूजिक ऑन डिमान्ड (MoD) और

विडिओ ऑन डिमान्ड (VoD) ऐप

हम सभी ने, सद्गुरु श्री अनिरुद्धजी की कृपा से, उन्हीं को समर्पित किए गए अभंगों का ‘पिपासा 3’नामक म्यूजिक ऐलबम के लोकार्पण का अनुभव किया। पिपासा-3 ऐलबम से पहले पिपासा-1 और पिपासा-2 ऐल्बम्स लोकार्पित हो चुके हैं।

इन अभंगों में सद्गुरु की महिमा का वर्णन है जिसमें सभी श्रद्धावानों के लिए सद्गुरु के भक्तिभाव चैतन्य में सराबोर होने का अत्यंत उत्तम साधन है। सद्गुरु श्री अनिरुद्धजी की उपस्थिति में एक संगीतात्मक कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमें पिपासा-3 ऐल्बम के अभंग प्रत्यक्ष गाए जा रहे थे, इसी कार्यक्रम के दौरान यह ऐप लौंच किया गया।

Shree Aniruddha Upasana Foundation

प्रौद्योगिकी जैसे जैसे रफ्तार से विश्व को व्याप्ति है वैसे वैसे यह ऐप अधिकतम लोगों तक पहुंचेंगे और श्रद्धावानों को समय के साथ बनाए रखने में सहायक होंगे। इन ‘म्यूजिक ऑन डिमान्ड’ और ‘विडियो ऑन डिमान्ड’ ऐप्स द्वारा सभी श्रद्धावान मोबाईल तथा टैबलेट्स पर इन मधुर अभंगों को सुनकर तथा विडियो द्वारा बापूजी को इन संगीतात्मक कार्यक्रमों के दौरान आनंद उठाते हुए देखकर झूम उठते हैं।

Shree Aniruddha Upasana Foundation
The MoD app – ‘अनिरुद्ध भजन म्यूजिक’ उपभोक्ता को यह गाने खरीदकर डाउनलोड करने की अनुमति देता है तथा ऑफलाईन मोड में सुनने की सुविधा प्रदान करता है। VoD app – ‘अनिरुद्ध टीवी’ इस ऐप पर जो उपभोक्ता पिपासा-3 ऑडियो ऐल्बम खरीदते हैं उनके लिए म्यूजिकल कार्यक्रम के विडियो नि:शुल्क देखने का प्रावधान है। इतना ही नहीं बल्कि, इस ऐप पर गुरुवार के दिन उपासना के दौरान श्रीहरिगुरुग्राम में चलनेवाले प्रत्यक्ष कार्यक्रम (Live Events) भी देखने का प्रावधान है।Shree Aniruddha Upasana Foundation

माह के दौरान

अनिरुद्धाज ऐकेडमी औफ डिजास्टर मैनेजमेंट (एएडीएम) गतिविधियां – नवंबर 2018

एएडीएम के बेसिक कोर्स के स्थान और लाभान्वित श्रद्धावानों की संख्या –

1. जे.बी. नगर, अंधेरी (पूर्व) उपासना केंद्र, मातोश्री बलवाड़ी में १९ श्रद्धावान।

2. जलगाँव उपासना केंद्र, दादावाड़ी में २४ श्रद्धावान।


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण

वर्ष ४ | अंक १ | जनवरी २०१९ | २

 


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण


एएडीएम कॉर्पोरेट कोर्स –

1. जी. एच. रायसोनी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड मैनेजमेंट, वाघोली, पुणे के अनुरोध पर AADM ने वहां विपदा निवारण (Disaster Management) पर २ घंटों का व्याख्यान आयोजित किया।

2. AADM ने विश्वकर्मा इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, पुणे के अनुरोध पर संस्थान में एक कोर्स आयोजित किया, जिसमें ७० छात्रों ने भाग लिया।

Shree Aniruddha Upasana Foundation

पल्स पोलियो सेवा –

अनिरुद्धाज्‌ ऐकेडमी ऑफ डिजास्टर मैनेजमेंट मुंबई, कल्याण-डोंबिवली, ठाणे और नवी मुंबई जैसे कई नगरों एवं शहरों के नगरनिगमों की पल्स पोलियो अभियान के आयोजन में सहायता करता आ रहा है।

८३ प्रशिक्षित एएडीएम स्वयंसेवकों ने १८ नवंबर, १९१८ को मुंबई के विभिन्न क्षेत्रों में पल्स पोलियो अभियान में भाग लिया।

Shree Aniruddha Upasana Foundation

दिसंबर २०१८ की एएडीएम की गतिविधियां –

एएडीएम बेसिक कोर्स

1. जुईनगर उपासना केंद्र, गुरुकुल, जुईनगर में २३ श्राद्धावनों ने सफलतापूर्वक बेसिक कोर्स किया।

2. भांडुप टेम्बीपाड़ा उपासना केंद्र, सह्याद्री विद्यामंदिर, शिवाजी तलाओ, भांडुप में ५६ श्राद्धावनों ने सफलतापूर्वक बेसिक कोर्स किया।

3. देवकरपानंद, कोल्हापुर उपासना केंद्र में १८ श्राद्धावनों ने सफलतापूर्वक बेसिक कोर्स किया।

4. जिजामाता विद्या मंदिर, आनंदवाडी, कुरार गांव, मालाड पूर्व उपासना केंद्र में २८ श्राद्धावनों ने सफलतापूर्वक बेसिक कोर्स किया।

Shree Aniruddha Upasana Foundation

एएडीएम कॉर्पोरेट कोर्स –

• १ दिसंबर २०१८ को टाटा कंसल्टंसी सर्विसेस, पवई ट्रेनिंग सेंटर में AADM कॉर्पोरेट कोर्स आयोजित किया गया था। टीसीएस लिमिटेड के सभी, कुल ५० कर्मचारियों ने कोर्स सफलतापूर्वक पूरा किया।

एएडीएम सेवा –

1. श्री महालक्ष्मी मंदिर ट्रस्ट और गामदेवी पुलिस स्टेशन के प्राधिकारियों के अनुरोध पर AADM द्वारा मार्गशीर्ष महीने के सभी गुरुवारों के दिन मुंबई के श्री महालक्ष्मी मंदिर में यातायात और भीड़ नियंत्रण की सेवा की गई। 223 डिजास्टर मैनेजमेंट वौलंटीयर्स (DMVs) ने इस सेवा में भाग लिए।

Shree Aniruddha Upasana Foundation

2. ऐरोली दत्त मंदिर के दत्तगुरु मंडल के अनुरोध पर AADM द्वारा २२ दिसंबर २०१८ को नवी मुंबई के दत्त मंदिर, ऐरोली में भीड़ नियंत्रण की सेवा की गई। २३ DMVs ने इस सेवा में भाग लिए।


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण

वर्ष ४ | अंक १ | जनवरी २०१९ | ३

 

 


अल्फा टू ओमेगा न्युजलेटर – मासिक संस्करण


Shree Aniruddha Upasana Foundation

3. AADM द्वारा श्री दत्त जयंती के अवसर पर २३ तथा २५ दिसंबर २०१८ को ट्रस्ट के अधिकारियों और पुलिस प्राधिकारी की सहायता के लिए दत्त मंदिर, सारंगखेड़ा, नंदुरबार में भीड़ नियंत्रण की सेवा की गई।

4. श्री सिद्धिविनायक गणपति मंदिर ट्रस्ट, प्रभादेवी, मुंबई के अनुरोध पर, एएडीएम द्वारा २४ एवं २५ दिसंबर, २०१८ को ‘अंगारक’ के अवसर पर भीड़ नियंत्रण की सेवा की गई।

५९९ (पुरुष: २७७ + महिलाएं: ३२२) DMVs ने भक्तों के विशाल प्रवाह को प्रबंधित करने की सेवा में भाग लिया।

5. श्री सिद्धिविनायक गणपती मंदिर ट्रस्ट, टीटवाला तथा पुलीस प्राधिकारी और कल्याण तालुका पुलिस स्टेशन के अनुरोध पर एएडीएम ने २४ और २५ दिसंबर, २०१८ को भीड़ नियंत्रण करने में ट्रस्ट के अधिकारियों और पुलिस प्राधिकारी की सहायता की जिसमें १७८ DMVs ने भाग लिए।

6. जयगढ़ पुलिस स्टेशन के अधिकारियों और श्रीदेव मंदिर ट्रस्ट, गणपतीपुले, रत्नागिरी के अनुरोध पर, एएडीएम ने २५ दिसंबर को भीड़ नियंत्रण की सेवा की जिसमें ९४ DMVs ने भाग लिया।

7. श्री गणपती मंदिर ट्रस्ट, सिद्धटेक और कर्जत तालुका पुलिस स्टेशन प्राधिकारी के अनुरोध पर एएडीएम द्वारा भीड़ नियंत्रण की सेवा की गई जिसमें ३२ DMVs ने भाग लिया।

वेब प्रेसेन्स्

यु-ट्युब चॅनेलस्

.

Related Post

Leave a Reply