Home / Current Affairs / कोरियन क्षेत्र में गतिविधियां तेज हुई

कोरियन क्षेत्र में गतिविधियां तेज हुई

उत्तर कोरिया के दक्षिण कोरिया एवं जापान पर परमाणु हमले मे २० लाख लोगों की जान जायेंगी- अमरीका के अभ्यासगट का डर

वॉशिंगटन: कोरियन क्षेत्र मे तनाव बढ़ रहा है और उत्तर कोरिया ने चर्चा के लिए तैयार न होने की बात घोषित की है। तथा अमरीका दक्षिण कोरिया एवं जापान से भड़काऊ गतिविधियां होने पर इन देशों पर परमाणु हमला करने की धमकी भी उत्तर कोरिया ने दी है। उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया एवं जापान पर परमाणु बम फेंका तो इस देश मे लगभग २१ लाख से अधिक नागरिकों की जान जा सकती है तथा ८० लाख से अधिक लोग जख्मी हो सकते है, ऐसा दावा अमरीका के अभ्यास गट के विश्लेषक माइकल झैगरेक जूनियर ने किया है।  पिछले कई हफ्तों मे उत्तर कोरिया के विरोध मे अमरीका, दक्षिण कोरिया एवं जापान की आक्रामकता मे बढ़त हुई है। उत्तर कोरिया से परमाणु हमले की धमकी दी जा रही है और अमरीका और मित्र देशों ने इस क्षेत्र मे सागरी तथा हवाई युद्ध अभ्यास का आयोजन किया था। इसके साथ अमरीका ने दक्षिण कोरिया मे ‘थाड’ और जापान मे ‘पैट्रियौट’ यह मिसाइल भेदी यंत्रणा सतर्क रखी थी। इस की वजह से कोरियन क्षेत्र मे तनाव बहुत ही बड़ा है।

Read More : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/north-koreas-nuclear-attack-south-korea-japan/

उत्तर कोरिया जैविक हथियारों का इस्तेमाल करेगा – अमरिकन रिपोर्ट का इशारा

वॉशिंगटन: उत्तर कोरिया के पास करीब १३ प्रकार के विविध जैविक हथियार हैं और इन हथियारों की मदद से यह देश अपने शत्रु देशों के खिलाफ जैविक युद्ध छिड़कर हाहाकार मचा सकता है, ऐसा इशारा अमरीका की रिपोर्ट में दिया गया है। उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन सिर्फ १० दिनों में ‘एंथ्रेक्स’, ‘प्लेग’, ‘टाइफाइड’, ‘यलो फीवर’ जैसे १३ बिमारियों के जंतु मिसाइल अथवा अन्य रास्तों से अन्य देशों में फैला सकता है, ऐसा अमरीका की रिपोर्ट में इशारा दिया गया है। पिछले हफ्ते, उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया और जापान पर परमाणु बम दागा तो इन देशों के २१ लाख से अधिक नागरिक मारे जाएंगे, ऐसा इशारा अमरिकन अभ्यास समूह ने दिया था। अमरीका की ‘हॉवर्ड यूनिवर्सिटी’ और ‘अम्प्लिफाय’ इस निजी कंपनी ने उत्तर कोरिया के जैविक हथियारों के बारे में विशेष रिपोर्ट तैयार की है। ‘नार्थ कोरिआज बायोलॉजिकल वेपन्स प्रोग्राम’ ऐसा इस रिपोर्ट का नाम है और इसमें उत्तर कोरिया में शुरू जैविक युद्ध की तैयारी की जानकारी दी गई है। ‘उत्तर कोरिया लश्करी तरीके से जैविक हथियारों की टुकडियां तैयार कर सकता है और उसमे मुख्य रूप से एंथ्रेक्स का समावेश होगा, ऐसा डर जताया जा रहा है।

Read More: http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/north-korea-use-biological-weapons/

कोरियन हवाई क्षेत्र में अमरिकन बॉम्बर्स का युद्धाभ्यास

सेऊल/वॉशिंगटन: अमरीका के रक्षा मंत्री जेम्स मॅटिस ने अपने रक्षा दल को उत्तर कोरिया के खिलाफ सभी विकल्पों को तैयार रखने के आदेश देकर कुछ घंटे भी नहीं बीते है और अमरीका के बॉम्बर्स विमानों ने कोरिया के हवाई क्षेत्र में युद्धाभ्यास किया है। अमरिकन बॉम्बर्स के इस युद्धाभ्यास में दक्षिण कोरिया और जापान के लड़ाकू विमानों ने भी हिस्सा लिया था। उत्तर कोरिया और एक मिसाइल के परिक्षण की तैयारी कर रहा है ऐसा दावा किया जा रहा है, ऐसे में अमरिकन बॉम्बर्स का यह अभ्यास उत्तर कोरिया के लिए इशारा है, ऐसा कहा जा रहा है।

अमरीका की लश्कर ने प्रसिद्ध की हुई जानकारी के अनुसार, आशिया-प्रशांत क्षेत्र के ‘गुआम’ द्वीप पर तैनात अमरीका के ‘बी-१ बी लांसर’ इन बॉम्बर्स विमानों ने मंगलवार रात को कोरियन क्षेत्र की दिशा में उड़ान भरी। अमरीका के इन सुपर सोनिक बॉम्बर्स विमानों ने कोरियन क्षेत्र में प्रवेश करने के बाद जापान और दक्षिण कोरिया के ‘एफ-१५ के’ लड़ाकू विमान भी इसमें शामिल हुए।

Read More : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/us-bombers-maneuvers-north-korean-region/

उत्तर कोरिया के सायबर हमले मे अमरीका–दक्षिण कोरिया के ‘वॉर प्लान्स’ हॅक

सेउल: उत्तर कोरिया के हॅकर्स ने किए सायबर हमले मे अमरीका और दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरिया के विरोध में बनाई युद्ध की योजना हॅक होने की बात उजागर हुई है। दक्षिण कोरिया के वरिष्ठ संसद सदस्य ने उसका इकबालिया बयान दिया है और रक्षा विभाग के नेटवर्क से लगभग २३५ गीगाबाइट (जीबी) इतनी बड़ी तादाद मे जानकारी चुराने की बात स्पष्ट हुई है। उत्तर कोरिया के हॅकर्स ने अब तक किए हमले मे यह सबसे बड़ा और चौका देने वाला सायबर हमला माना जा रहा है। इस हमले की वजह से उत्तर कोरिया के विरोध मे लष्करी तथा राजनीतिक प्रयत्न पर अंकुश लग सकता है, ऐसा दावा किया जा रहा है।

दक्षिण कोरिया के सत्ताधारी ‘डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ कोरिया’ के संसद सदस्य ‘री चेउल ही’ ने उत्तर कोरिया के सायबर हमले की जानकारी उजागर की है। दक्षिण कोरिया के रक्षा विभाग के अधिकारियों ने दिए जानकारी के अनुसार राजधानी सेउल मे लश्कर के डाटा सेंटर से लगभग २३५ जीबी जानकारी चुराई गई है। चुराई गई जानकारी मे १८२ जीबी डाटा किस बारे मे है इसकी ठोस कल्पना नहीं है ऐसा किसी ने कहा है।

Read More : http://www.newscast-pratyaksha.com/hindi/cyber-attack-war-plans-hacked/

Newscast-Pratyaksha Twitter Handle

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*